Feb, 17, 2020
HOTLINE: 9594041704
BREAKING NEWS

अंतरिक्ष में भारत की सर्जिकल स्ट्राइक, जानिए क्या है मिशन शक्ति?

Sharing is caring!

National Desk : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को बताया कि भारत चौथा ऐसा देश बन गया है जो अंतरिक्ष में निचली कक्षा में लाइव सेटेलाइट को मार गिराने की क्षमता रखता है। बुधवार को DRDO की तरफ से किये गये टेस्ट में एंटी सेटेलाइट ने 300 किमी की ऊंचाई पर सेवा से बाहर हो चुके एक पुराने सैटलाइट को निशाना बनाया। यह पूरा ऑपरेशन मात्र 3 मिनट में पूरा हो गया।

इस मिशन शक्ति की अहमियत इतनी है कि प्रधानमंत्री मोदी ने विशेष रूप से इस खबर को देश वाशियों को बताया। PM मोदी ने कहा कि सफल भारत के उज्व्वल भविष्य के लिए यह मिशन शक्ति काफी महत्पूर्ण है, साथ ही इस सफलता में भारत चौथे नंबर पर आ गया है, यह हमारे लिए गर्व की बात है। लो अर्थ ऑर्बिट यानि पृथ्वी की सतह से 160 किलोमीटर और 2,000 किलोमीटर के बीच की ऊंचाई पर स्थित है। 

यहां पर यह सेटेलाइट भ्रमण करता है, यानि की दूरसंचार माध्यम के लिए यह सतह काम आती है। इसके बाद आता है मिडियन अर्थ ऑर्बिट, जो 2000 किलोमीटर से लेकर 35786 किलोमीटर कक्षा में है। Geosynchronous ऑर्बिट तकरीबन पृथ्वी की सतह से 35,786 किलोमीटर से ऊपर स्थित है.
मिशन शक्ति से हम लो अर्थ ऑर्बिट या लिओ जो जमीनी स्तर से कम ऊंचाई पर स्थित सेटेलाइट होता है, उसे यह मार गिरने में सक्षम हुई। 

देश में बढ़ती हुई पडोसी मुल्को की आतंकी कारवाई के चलते हमे हमारी सुरक्षा के नए संसाधान जुटाने है और इसी दिशा मे मिशन शक्ति का सफल परीक्षण हमारे देश को और भी मजबूत बनाता है। हमें न सिर्फ ऐसे जीओ सेटेलाइट की आवश्यकता है, लेकिन साथ मे दुश्मन के ऐसे जीओ सेटेलाइट को मार गिरना भी उतना ही जरूरी है और यही निपुणता हमारे वैज्ञानिको ने दिखाकर इसका सफ़ल परीक्षण परिणाम सफलता पूर्वक हासिल किया है।  

इससे पहले अमेरिका, चीन और रूस के पास यह क्षमता थी और अब भारत के पास भी है। हमने मिशन शक्ति के तहत लो-औरबेटिंग यानि अंतरिक्ष में निचले सतहपर उड़ान करनेवाली सैटेलाईट को मार गीराने का सफल परीक्षण किया है।  

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of
Loading...