Sep, 22, 2019
HOTLINE: 9594041704
BREAKING NEWS

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने पाकिस्तान को जम कर लगाई फटकार

Sharing is caring!

भारतीय विदेश मंत्रालय ने शनिवार सुबह प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए पाकिस्तान पर लगाया करारा आरोप। विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान को आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करने का कोई इरादा नहीं है। वह लगातार झूठ बोल रहा है। 14 फरवरी के पुलवामा हमले के बाद जब भारत ने 26 फरवरी को सर्जिकल स्ट्राइक के द्वारा जब बालाकोट में आतंकियों का खत्म किया गया तब पाकिस्तान ने जबाब के एफ-16 से भारत पर हमला करवाया जिसे भारत के सेना ने नाकाम किया। तो इसका मतलब है पाकिस्तान जबाब देना चाह रहा था ना की आतंकियों के खिलाफ करवाई। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार के मुताबिक- भारत के दो विमान गिराने का पाकिस्तानीयो का दावा झूठा है। इस दौरान पाकिस्तान ने एफ-16 का इस्तेमाल किया था। भारत के पास इसके इलेक्ट्रानिक सबूत और गवाह मौजूद हैं, जो उसे बेनकाब करते  है।

‘पाकिस्तान दूसरे एयरक्राफ्ट को गिराने के सबूत क्यों नहीं दे रहा है। ‘विदेश मंत्रालय के मुताबिक, “अगर पाकिस्तान ये दवा करता है की उसने एयरक्राफ्ट किए तो फिर वो कोई साबुत क्यों नहीं दे रहा है कोई तो वीडियो कोई तो तस्वीर शेयर करे? हमारे पास सबूत हैं कि पाक ने भारत पर हमले के लिए एफ-16 विमान इस्तेमाल किया। हमने इस बारे में अमेरिका को भी सूचना दी है। पुलवामा हमले के बाद अंतरराष्ट्रीय समुदाय का साथ भारत को मिल रहा है। पाकिस्तान से भी आतंक का सफाया करने के लिए कहा गया है। संयुक्त राष्ट्र ने पाकिस्तान की निंदा करते हुए कहा था कि पाकिस्तान को आतंकी के खिलाफ करवाई करना चाहिए थी। इसमें सीधे जैश-ए-मोहम्मद का नाम लिया गया था। यूएन की प्रेस रिलीज में भी सयुक्त राष्ट्र ने यह कहा था। ‘पाक अपने लोगों को बचा रहा है’, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि बीबीसी को दिए इंटरव्यू में शाह महमूद कुरैशी ने कुछ बयान दिए थे। क्या पाकिस्तान अपने लोगों को बचा रहा है? चुनाव जीतने के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा था कि वो किसी भी तरह से आतंकियों को अपनी जमीन इस्तेमाल नहीं करने देंगे। लेकिन अभी तक उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की। पाकिस्तान में आतंकी ठिकानों के बारे में सभी को पता है। जैश ने खुद हमले की बात को काबुल किया था की वो पाकिस्तान की जमीन का ही सहारा ले रहा है पर पाकिस्तान इस बात को काबुल करने का नाम ही नहीं ले रहा है। अपनी बातो से हर बार मुकर जाता है पाकिस्तान कहता कुछ है और करता कुछ। रवीश के मुताबिक, “26 फरवरी के बाद अंतरराष्ट्रीय समुदाय की मांग के बाद पाकिस्तान ने अपने यहां मौजूद आतंकियों पर कार्रवाई शुरू करने की बात कही थी। पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने भी कहा था कि जैश सरगना मसूद अजहर उनके यहां मौजूद है।  रवीश ने बताया कि पाकिस्तान  ने करतारपुर कॉरिडोर के लिए होने वाली मीटिंग पर कुछ संशय पैदा किया है। हमने कभी उनसे इस मामले पर मुलाकात से इनकार नहीं किया। लेकिन करतारपुर पर बातचीत के दौरान सिर्फ करतारपुर ही चर्चा का मुद्दा होगा और किसी मामले पर उनसे बात नहीं की जाएगी। “अल्पसंख्यकों के साथ बर्ताव के मामले में पाकिस्तान हमेशा दुनिया में सबसे निचा था, है और लगता है रहेगा भी। इसलिए वो हमें इस बारे में सलाह देने से पहले अपने यहां ध्यान दे। वहां अल्पसंख्यकों की हालत बेहद खराब है।”

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of
Loading...