Dec, 15, 2019
HOTLINE: 9594041704
BREAKING NEWS

नीतीश कुमार को मिली पटना हाई कोर्ट से राहत…

Sharing is caring!

Patna : आपको बता दे कि 16 /11/1991 को बाढ़ के पंडारक में रहने वाले सीताराम सिंह की हत्या हुई थी। इस हत्या का आरोप बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार पर भी लगा था। नितीश कुमार ने 2009 में पटना हाईकोर्ट में अपनी बेगुनाही साबित करने के लिए अपील की थी।आपको बता दे कि ये केश बहोत ही लम्बा चला और नीतीश पे लगे हत्या के आरोप की वजह से उनकी विपक्षी पार्टी ने काफी आरोप भी लगाए उनपर। इस आरोप को लेकर विपक्षी दलों ने कई बार नितीश पर हमला बोले लेकिन नितीश कुमार की छवि को प्रभावित नहीं कर सके। हाल ही में लालू यादव ने भी इस मुद्दे का खूब फायदा उठाया और नीतीश के खिलाफ कई आरोप लगा कर भाषणबाजी भी की। जबकि लालू खुद कई आरोपों में उलझे हुए है और कुछ में तो सज़ा भी हो चुकी है। इस मर्डर केस को लेकर लालू नितीश पर तो हमला बोलते रहे लेकिन अपने ऊपर चल रहे कई मुकदमों पर खामोश रहे. लेकिन फील हाल नितीश कुमार के लिए रहत की खबर जरूर है।  

पटना हाईकोर्ट ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को आरोपों से बरी कर दिया है। पटना हाई कोर्ट ने कहा है कि ऐसा कोई साबुत नहीं है जिससे हम नितीश कुमार पर मुकदमा चला सके। पंडारक हत्याकांड में नीतीश का कोई हाथ नहीं कह कर हाईकोर्ट ने इस आरोप से नीतीश को मुक्त कर दिया है। साथ ही एफआईआर से नीतीश का नाम हटाने का भी आदेश दे दिया है। नीतीश के लिए ये बहोत ही हर्ष की बात होगी कि लोकसभा चुनाव से ठीक पहले उन्हें इस केश से बेगुनाह करार दे दिया गया। ये बात नीतीश के लिए चुनाव के दौरान काफी फायदेमंद हो सकती है। बिपक्षी दल जो बार बार इस आरोप का फायदा उठा कर नीतीश को कमजोर बना रहे थे, उनके मुँह बंद करने के लिए ये  बहोत ही एहम फैसला है कि नीतीश निर्दोष साबित हुए है। अब देखने वाली बात ये होगा कि लालू नितीश के खिलाफ भ्र्ष्टाचार के कौन से आरोप जनता के सामने लाते है, क्यों कि नितीश के पास तो लालू के लिए भ्रस्टाचार के मामले में ऐसे बहोत सारे मुद्दा है जिसे वो आगामी लोकसभा में इस्तेमाल कर सकते है। जब नीतीश कुमार पहलीबार बिहार के मुख्यमंत्री बने थे तो उन्होंने बहोत से सराहनीय काम किए थे। बिहार की जनता नितीश से बहोत खुश थी। उस दौरान किए गए कार्यो का प्रभाव अभी भी बिहार में देखने को मिल रहा है। पटना हाईकोर्ट से राहत मिलने के बाद नीतीश को काफी सुकून मिला होगा। बिहार में उनके परफॉरमेंस कि बात करे तो थोड़ी बहोत शिकायते है बिहार की जनता को उनसे, उम्मीद है उसका निदान करेंगे और बिहार को विकसित प्रदेश बनाने के लिए महत्पूर्ण कार्य करते रहेंगे। खास कर शिक्षा के बिभाग में नितीश कुमार को बहोत कुछ करना है। चुकी बिहार के प्राथमिक और मध्य विद्दालय की हालत कुछ ठीक नहीं है, उम्मीद है कि नीतीश इस बात को लेकर कुछ सख्त कदम उठाएंगे।  

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of
Loading...