Dec, 15, 2019
HOTLINE: 9594041704
BREAKING NEWS

अमेरिका ने फिर एक बार पाकिस्तान को दी चेतावनी…

Sharing is caring!

14 फरवरी को कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ पर हमला हुआ था जिसमे 40 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान  सीमा में घुसकर आतंकी ठिकानों पर बम गिराए। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक – 350 आतंकी मारे गए। 27 फरवरी को पाकिस्तान के विमानों ने भारतीय सीमा का उल्लंघन किया। जवाबी कार्रवाई में मिग-21 बाइसन विमान ने पाक का एक एफ-16 विमान मार गिराया। बाद में विमान क्रैश होने से विंग कमांडर अभिनंदन पीओके में पाकिस्तान के कब्जे में जा पहोचे थे। उसके बाद पाकिस्तान को कितनी ज़िल्लते मिली, तब जाकर 1 मार्च को पाकिस्तान ने अभिनन्दन को भारत को सौंप दिया।अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने सोमवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से फोन पर बात की। जॉन  बोल्टन ने जैश-ए-मोहम्मद समेत सभी आतंकी गुटों पर सख्त कार्रवाई और भारत से तनाव कम करने को कहा। शाह महमूद कुरैशी ने जॉन बोल्टन से दोनों बातों का भरोसा जताया।बोल्टन ने ट्वीटर पर ट्वीट कर के जानकारी दी है -जॉन बोल्टन ने कहा कि शाह महमूद कुरैशी ने जैश समेत आतंकी गुटों पर सार्थक कार्रवाई का भरोसा जताया है। उन्होंने भारत के साथ तनाव कम करने की बात भी कही है।

बोल्टन की पाकिस्तानी विदेश मंत्री से बातचीत उस वक्त की जब भारत के विदेश सचिव विजय गोखले अमेरिका के दौरे पर थे । गोखले ने अपनी यात्रा के पहले दिन अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो से बातचीत की।अमेरिकी विदेश मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि हम पाकिस्तान पर लगातार दबाव बनाने की कोशिश कर रहे हैं। यूएस विदेश विभाग के उपप्रवक्ता रॉबर्ट पलाडिनो के मुताबिक- पॉम्पियो और गोखले ने पुलवामा हमले के जिम्मेदारों को कठघरे में लाने और पाकिस्तान  की जमीन पर आतंकी पनाहगाहों पर कार्रवाई करने को लेकर चर्चा की।पलाडिनो ने कहा कि पॉम्पियो ने भरोसा जताया है कि अमेरिका आतंकवाद के खिलाफ भारत और उसके लोगों के साथ खड़ा है। पुलवामा हमले के बाद अमेरिका सहित दुनिया के तमाम देशों ने भारत के साथ मिल कर पाकिस्तान पर दबाब बना रहे है। इस वक्त पाकिस्तान अलग थलग हो चूका है। भारत सरकार की ये कूटनीतिक जित है जो सभी देश भारत के साथ खड़े है। अगर अब भी पाकिस्तान नहीं सुधरता है तो आने वाले दिनों में भारत फिर से एक बड़ी करवाई कर सकता है। अब देखना ये होगा कि पकिस्तान बातों से सुधरता है या लातो से। 

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of
Loading...